Cart
Jangali Sarson Ke Uphaar

Jangali Sarson Ke Uphaar

  • Name: जंगली संरसों के उपहार
  • Publisher/Group: Eklavya
  • Product Code: 9789385236266
  • Author: Karen Haydock
  • Illustrator: Karen Haydock
  • Translator: Shashi Sablok
  • ISBN-13: 978-93-85236-26-6
  • Binding: Paperback
  • No. Of Pages: 52
  • Language: Hindi
  • PublishingDate: 2017
  • Availability: 448
  • $ 10.00

     
  • Ex Tax: $ 10.00

क्या आप जानते है कि जो पौधे आज हम खाते है वे पहले नहीं होते थे? बंद गोभी, फूल गोभी या मुली पहले नहीं पाए जाते थे? तो फिर से पौधे आए कहा से ? पौधो का विकास हुआ कैसे? यह किताब न सिर्फ इस सवालों के जवाब ढूँढने मे आपकी मदद करती है बल्कि सवाल और खोजबीन करने के लिए भी प्रेरित करती है ...

Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good
Captcha